भारतीय टीम के लिए वनडे क्रिकेट में हैट्रिक लेने वाले 3 गेंदबाज

क्रिकेट में कोई गेंदबाज तीन गेंदों में लगातार तीन विकेट लेता है, तो वह हैट्रिक कहलाती हैं. क्रिकेट के किसी भी फॉर्मेट में हैट्रिक लेना एक बहुत कठिन काम माना जाता है. वनडे क्रिकेट में तो यह करनामा करना गेंदबाजों के लिए लोहे के चने चबाना सामान होता है. 

हालांकि भारत के कुछ गेंदबाजों ने वनडे में हैट्रिक ली हुई है. आज हम आपकों अपने इस खास लेख में भारत के टॉप-3 गेंदबाजों के बारे में बताएंगे, जिन्होंने वनडे में भारत के लिए हैट्रिक ली हुई हैं.

मोहम्मद शमी

भारत के बायें हाथ के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने अपनी शानदार गेंदबाजी के दम पर भारत को काफी मैच जिताए हुए हैं. यह अपनी सीम पोजीशन की गेंदबाजी के लिए पहचाने जाते हैं. मोहम्मद शमी ने भारत के लिए वनडे मे हैट्रिक ली हुई हैं.

आईसीसी विश्व कप में 22 जून 2019 को भारत और अफगनिस्तान के बीच मैच खेला गया था, जिसमे भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का निर्णय लिया था. इस मैच के दौरान भारत पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवर में 8 विकेट खोकर मात्र 224 रन ही बना पाया था, जिसके जवाब मे अफगनिस्तान ने अच्छा खेलते हुए 49 ओवर मे 7 विकेट के नुकसान पर 209 रन बना दी थे.

अफगनिस्तान के बल्लेबाजों को लास्ट ओवर मे जीत के लिए 16 रन की जरूरत थी, उस मैच का आखिरी ओवर लेकर आये मोहम्मद शमी ने हैट्रिक ले ली थी, जिसकी वजह से भारत ने यह मैच 11 रन से जीत लिया था. 

कुलदीप यादव

दायें हाथ के स्पिन गेंदबाज कुलदीप यादव भारत के लिए कुछ समय से काफी अच्छा प्रदर्शन कर रहे है, ये काफी शानदार गेंदबाज हैं ये अपनी गूगली गेंदबाजी से काफी विकेट लेते हैं. 

ऑस्ट्रेलिया भारत दौरे पर आई थी, यह दौरे के दूसरे वनडे मे भारत ने टॉस जीत के पहले बल्लेबाजी का निर्णय लिया था, और निर्धारित 50 ओवर मे 252 रन बना के पूरी टीम ऑल आउट हो गयी थी.

इसके जवाब मे ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज भी अच्छा प्रदर्शन नही कर पाए इस मैच का 33वें ओवर लेकर आए कुलदीप ने लगतार 3 गेंदों मे 3 विकेट लेकर हैट्रिक अपने नाम की थी. जिसकी वजह से ऑस्ट्रेलिया 43.1 ओवर मे ही ऑल आउट हो गई. भारत ने कुलदीप यादव की गेंदबाजी की बदौलत यह मैच कम स्कोर बनाने के बावजूद भी 50 रन से जीत लिया था.

चेतन शर्मा

भारत के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी चेतन शर्मा भी भारत के लिए वनडे मे हैट्रिक लेने का करनामा कर चुके हैं. इन्होंने 31 अक्टूबर 1987 को भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच वर्ल्डकप का सेमीफाइनल खेला गया था. 

इससे पहले भारत काफी अच्छा प्रदर्शन करते हुए आ रही थी उन्होंने अपने 5 मैचों मे से 4 मे जीत हासिल कर सेमीफाइनल में अपनी जगह बनाई थी, हालांकि उनका न्यूज़ीलैंड के साथ मुकाबला बेहद मुश्किल था, यह मैच के दौरान चेतन शर्मा ने लगातार तीन गेंदों मे तीन विकेट ले कर हैट्रिक ली थी. उन्होंने तीनों विकेट बोल्ड से निकाले थे. वह वर्ल्डकप में हैट्रिक लेने वाले पहले गेंदबाज बन गए थे.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

पॉपुलर