रवि शास्त्री के बाद राहुल द्रविड़ नहीं, बल्कि ये 3 दिग्गज बन सकते हैं भारतीय टीम के नए मुख्य कोच

रवि शास्त्री को 2017 में भारतीय टीम का मुख्य कोच बनाया गया था, उनकी कोचिंग में भारतीय टीम ने अच्छा प्रदर्शन किया और देश-विदेश में अपना परचम लहराया. हालांकि रवि शास्त्री की कोचिंग में भारतीय टीम आईसीसी ट्रॉफी नहीं जीत पाई. विश्व कप 2019 के साथ-साथ भारत को वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में भी हार का सामना करना पड़ा.

इस साल यूएई में भारत की मेजबानी में आइसीसी टी-20 विश्व कप का आयोजन होना है. जानकारी के मुताबिक यह बतौर कोच शास्त्री का आखिरी टूर्नामेंट होगा. आज हम आपकों अपने इस खास लेख में उन 3 दिग्गजों का नाम बताने जा रहे हैं, जो रवि शास्त्री के बाद भारत के नए मुख्य कोच बन सकते हैं.

रवि शास्त्री अगर कोच पद से इस्तीफा देते हैं, तो उनके बाद राहुल द्रविड़ को मुख्य कोच का सबसे प्रबल दावेदार माना जा रहा है. हालांकि द्रविड़ साल 2017 में भी भारत का मुख्य कोच बनने का ऑफर ठुकरा चुके हैं. इस बात का खुलासा अपने एक इंटरव्यू में उस समय के क्रिकेट प्रशासक समिति के चेयरमैन विनोद राय ने किया था. ऐसे में इस बार भी द्रविड़ भारत के मुख्य कोच पद का ऑफर ठुकरा सकते हैं.

दरअसल, द्रविड़ उस समय अंडर-19 और इंडिया ए के युवा खिलाड़ियों को ही तैयार करना चाहते थे और हो सकता है कि इस बार भी वह एनसीए के अध्यक्ष के रूप में युवा खिलाड़ियों को ही ट्रेनिंग देना जारी रखे. अगर द्रविड़ भारत के मुख्य कोच नहीं बनते हैं, तो कौन 3 इस पद के दावेदार है? उन्ही के बारे में हम इस आर्टिकल में बात करेंगे.

माइक हेसन 

Mike Hesson
Mike Hesson

रवि शास्त्री अगर भारतीय टीम के कोच पद से हटेंगे, तो भारत के अगले मुख्य कोच बनने के सबसे प्रबल दावेदार न्यूजीलैंड के पूर्व कोच माइक हेसन होंगे. दरअसल, जब 2019 में रवि शास्त्री का कॉन्ट्रैक्ट आगे बढ़ाया गया था, तो सलाहकार समिति द्वारा लिए गए इंटरव्यू में माइक हेसन को ही रवि शास्त्री के बाद सबसे ज्यादा अंक मिले थे.

ऐसे में रवि शास्त्री के बाद सबसे पहला नाम बीसीसीआई के दिमाग में माइक हेसन का ही आ सकता है. माइक हेसन वर्तमान में आरसीबी के डायरेक्टर भी है. ऐसे में उनकी कप्तान कोहली से काफी अच्छी बॉन्डिंग भी है. माइक हेसन की कोचिंग में न्यूजीलैंड की टीम 2015 विश्व कप के फाइनल में भी पहुंच चुकी है.

टॉम मुडी 

tom moody
tom moody

टॉम मुडी भी भारत के मुख्य कोच पद की रेस में रहेंगे. दरअसल, साल 2019 में टॉम मुडी भी भारत के कोच पद के लिए आवेदन कर चुके हैं. जब भी भारतीय टीम के कोच पद के लिए आवेदन होते हैं, तो टॉम मुडी अपना नाम जरुर देते हैं, लेकिन सालों से उनके हाथ निराशा ही लग रही है, क्योंकि अब तक एक बार भी उन्हें भारत की कोचिंग का मौका नहीं मिल पाया है.

टॉम मुडी एक अनुभवी कोच है. वह सनराइजर्स हैदराबाद को अपनी कोचिंग में आईपीएल 2016 का खिताब जीता चुके हैं. साथ ही श्रीलंका टीम को भी कोचिंग दे चुके हैं. साल 2021 में वह भी भारत के मुख्य कोच पद के बड़े दावेदार रहेंगे.

लालचंद राजपूत

lalchand rajput
lalchand rajput

साल 2007 के टी-20 विश्व कप के दौरान टीम इंडिया के साथ कोई मुख्य कोच नहीं था और डायरेक्टर के रूप में लालचंद राजपूत थे जिनके मार्गदर्शन में भारत ने टी-20 विश्व कप का खिताब जीता लिया था.

हालांकि उनका यह छोटा कार्यकाल जल्द ही समाप्त हो गया था और गैरी क्रिस्टन को भारत का मुख्य कोच बना दिया गया था. इसके बाद कई बार आवेदन कर लालचंद राजपूत ने भारत का मुख्य कोच बनना चाहा, लेकिन उन्हें नाकामी ही मिली.

इस बार वह कहीं ना कहीं भारत के मुख्य कोच पद के दावेदार होंगे. इन्हें कोचिंग का काफी अच्छा अनुभव है. राजपूत ने अफगानिस्तान और जिम्बाब्वे जैसी अंतरराष्ट्रीय टीमों को कोचिंग दी हुई है.

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

पॉपुलर