3 भारतीय खिलाड़ी, जिन्हें डेब्यू सीरीज में ‘मैंन ऑफ द सीरीज’ चुना गया

भारत में कई शानदार खिलाड़ियों ने डेब्यू में अच्छा प्रदर्शन करते हुए टीम इंडिया को कई मैचों में जीत दिलाई हुई हैं. बीसीसीआई कुछ सालों में अपने खिलाड़ियों में काफी काम कर रहीं हैं, जिसका फायदा यह हुआ कि भारतीय टीम को काफी शानदार खिलाड़ी मिल रहें हैं.

काफी खिलाड़ी, तो अपने डेब्यू सीरीज से ही अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं और ‘मैंन ऑफ द सीरीज’ का अवार्ड जीत ले रहे हैं. आज हम आपकों अपने इस ख़ास लेख में भारतीय टीम के ऐसे खिलाड़ियों के बारे में बताएंगे, जिन्होंने अपने डेब्यू सीरीज में ही ‘मैंन ऑफ द सीरीज’ का अवार्ड जीत लिया था.

केएल राहुल vs ज़िम्बाब्वे, 2016

kl rahul
kl rahul

केएल राहुल भारत के दाएं हाथ बल्लेबाज हैं, जिन्होंने अपने एक दिवसीय मैच की शुरुआत काफी धमाकेदार तरह से ज़िम्बाब्वे के खिलाफ की थी. वो टेस्ट में पहले ही डेब्यू कर चुके थे, टेस्ट में वह एक बड़ा नाम थे. वनडे में उन्होंने 2016 में ज़िम्बाब्वे के डेब्यू करते हुए पहले मैच में ही शतकीय पारी खेल दी थी, और उसी सीरीज के तीसरे मैच में 63 रनों की नबाद पारी खेल डाली थी. केएल राहुल के लगातार रन बनाने के लिए ‘मैंन ऑफ़ द सीरीज’ चुना गया था. केएल राहुल अपने डेब्यू मैच में शतक और डेब्यू सीरिज ने ‘मैंन ऑफ़ द सीरीज’ चुने जाने वाले बल्लेबाजो में से एक हैं.

बृजेश पटेल vs इंग्लैंड, 1974

Brijesh Patel
Brijesh Patel

यह मैच अंतरराष्टीय क्रिकेट में भारत की पहली एकदिवसीय सीरीज थी, जो इंग्लैंड के खिलाफ अजीत वाडेकर की कप्तानी में 1974 में खेली गयी थी. जिस मैच में बृजेश पटेल ने उस टाइम पर अच्छी बल्लेबाजी की थी, उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ पहले एकदिवसीय मैच में केवल 78 गेंदों में 82 रन की पारी खेल कर भारत को एक सम्मानजनक टोटल तक पहुचाया था, हालांकि ये स्कोर पर्याप्त नहीं था जिसे इंग्लैंड ने बड़ी ही आसानी से जीत लिया था. दुसरे एकदिवसीय में वह केवल 12 रन पर बदकिस्मती से रन आउट हो गये. बृजेश पटेल को इस सीरीज में ‘मैंन ऑफ़ द सीरीज’ चुना गया था.

सूर्यकुमार यादव vs श्रीलंका, 2021

सूर्यकुमार यादव काफी अच्छे बल्लेबाज है, जो काफी समय से भारतीय क्रिकेट के चयनकर्ताओं को प्रभावित करते आ रहे थे, आखिर उन्हें श्रीलंका के खिलाफ बड़े खिलाडियों की गैरमौजूदगी पर अवसर मिला. अपने डेब्यू वनडे में उन्होंने 20 गेंदों में नाबाद 32 रनों की पारी खेली.

दूसरे वनडे में अर्धशतक लगते हुए फॉर्म को जरी रखा, तीसरे मैच में अच्छी बल्लेबाजी करते हुए 40 रन बनाए थे. उनकी इन शानदार परियों के लिए उन्हें ‘मैंन ऑफ़ द सीरीज’ के खिताब से नवाजा गया.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

पॉपुलर